व्यापार

औद्योगिक उत्पादन में नौ महीने की सबसे बड़ी तेजी

Smiley face

नयी दिल्ली | (एजेंसी ) खनन एवं बिजली क्षेत्र की गतिविधियों में अच्छी तेजी से अगस्त महीने में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में 4.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी जो नौ महीने का इसका उच्चतम स्तर है।

पिछले साल अगस्त में आईआईपी में चार प्रतिशत और इस साल जुलाई में 0.94 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गयी थी।

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा आज यहाँ जारी आँकड़ों के अनुसार, अगस्त में खनन क्षेत्र में 9.4 प्रतिशत, बिजली क्षेत्र में 8.3 प्रतिशत और विनिर्माण क्षेत्र में 3.1 प्रतिशत की तेजी दर्ज की गयी।

चालू वित्त वर्ष के पहले पाँच महीने में आईआईपी की समेकित वृद्धि दर 2.2 प्रतिशत रही है। पिछले साल की समान अवधि में यह 5.9 प्रतिशत रही थी। इस दौरान बिजली क्षेत्र की वृद्धि दर 6.7 प्रतिशत से घटकर 6.2 प्रतिशत, खनन क्षेत्र की चार प्रतिशत से घटकर 3.3 प्रतिशत और विनिर्माण क्षेत्र की 6.1 प्रतिशत से कम होकर 1.6 प्रतिशत रह गयी।

खनन के अलावा जिन उत्पादों का योगदान अगस्त में आईआईपी बढ़ाने में सबसे ज्यादा रहा उनमें पाचक एंजाइम और एंटीएसिड, बिजली और डीजल शामिल हैं। आईआईपी पर सबसे ज्यादा दबाव सोने के आभूषणों, बिजली के स्विचों एवं सुरक्षा उपकरणों, अन्य तंबाकू उत्पादों, टूथपेस्ट और मलेरिया की दवाओं का रहा जिनका उत्पादन घट गया।

Smiley face